हिंदी साहित्य में अष्टछाप के स्मरणीय तथ्य प्रतियोगी परीक्षा की दृष्टि से अति महत्त्वपूर्ण हैं | अष्टछाप का संक्षिप्त परिचय, अष्टछाप पर टिप्पणी, अष्टछापी कवि,

Read More

मिलती जुलती हिंदी साहित्य की रचनाएँ, एक ही नाम से हिंदी साहित्य की रचनाएँ जो अनेक साहित्यकारों द्वारा लिखी गई हैं | इस पोस्ट को

Read More

रिपोर्ताज संबंधी मुख्य तथ्य  ⇒ रिपोर्ताज का अभिप्राय है कि किसी आँखों देखी घटना का यथातथ्य वर्णन है जिसमें संपूर्ण विवरण दृश्यमान हो जाता है

Read More

गद्यगीत या गद्यकाव्य के प्रवर्तक राय कृष्णदास हैं । इसकी शुरुआत छायावाद युग से मानी जाती है । राय कृष्णदास ने गीतों को लयबद्ध तरीकेसे

Read More

हिंदी साहित्य में संस्मरण विधा का प्रारंभ द्विवेदी युग से माना जाता है। रेखाचित्र और संस्मरण में नाममात्र का अंतर है। संस्मरण शब्द स्मृ धातु

Read More

अंग्रेजी के ‘स्केच‘ शब्द का पर्यायवाची रेखाचित्र है। हिंदी में इसे ‘शब्दचित्र‘ भी कहते हैं। व्यक्तिचरित्र, शब्दांकन, चरित्रलेख इत्यादि इसके अन्य नाम हैं। शब्दों के द्वारा

Read More

तुलसी के विषय में मुख्य विचार या कथन, तुलसीदास और रामचरितमानस के संबंध में प्रमुख कथन, रामचरितमानस के विषय में प्रमुख कथन ramacharitmanas ke vishay mein

Read More
error: Content is protected !!